मेष राशि मे पड़ने वाले नक्षत्र एवं उनके चरण कुछ इस प्रकार है-
अश्विनी – चू, चे, चो, ला
भरणी – ली, लू, ले, लो
कृतिका – आ
वर्ष 2023 मे मिथुन राशि मे स्थित राहु पराक्रम भाव में उपस्थित रहेंगे।
वृश्चिक राशि के मंगल देव क्रमशः आठवें भाव में उपस्थित रहेंगे।
धनु राशि के सूर्य देव, इनके साथ बुध देव, इनके साथ गुरू देव, इनके साथ शनि देव केतु देव भाग्य स्थान में उपस्थित है।
मकर राशि मे स्थित शुक्र दसवें स्थान में उपस्थित रहेंगे व कुम्भ राशि में चन्द्रमा लाभ स्थान में उपस्थित हो कर वर्ष भर गतिशील रहेंगे।
शारीरिक स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से वर्ष 2023 मे शारीरिक स्वास्थ्य की दृष्टि से सही वक़्त पर इलाज करवाने पर ही पुराने रोग में हलके हलके परिस्थिति में पहले से काफ़ी अच्छा सुधार होने लगेगा। ज़बकि थोड़ी बहुत मौसमी बीमारी जैसे कि बुखार, सिर मे अनावश्यक दर्द, अपच व इससे सम्बन्धी समस्या उत्पन्न होने से कभी-कभी मन अपशांत एवं चिंता से भरा रहेगा। स्वास्थ्य ठीक रखने के लिए महामृत्युंज्य यंत्र की माला अभिमंत्रित करके गले में धारण करें एवं शिवलिंग पर मिश्री मिले दूध से जल अर्पण करें |
पारिवारिक दृष्टि कोण से ये वर्ष उतार चढ़ाव से परिपूर्ण रहेगा। परिवार मे सदस्यों के साथ सामंजस्य और दृष्टिकोण से परिवार के सदस्यों में शांति बनी रहेगी। लेकिन किसी की सहायता हेतु आगे नहीं आएंगे। पिता का स्वास्थ्य अपेक्षा के अनुरूप बहुत अच्छा रहेगा। किन्तु माता जी की अप्रसन्नता एवं असंतुष्टता से मन में निराशा रहा सकती है।
बच्चों के लिहाज से एवं उनके स्वास्थ्य की नजरिये में ये समय अच्छा रहने वाला है। आपके बच्चों का मन प्रसन्न व अत्यधिक ख़ुशहाल एवं मनोवांछित इच्छाओं की पूर्ति संभव है। पति एवं पत्नी के सम्बन्धों में तालमेल व व्यवहार अच्छा होने से गृहस्थ जीवन में खुशी की लहर एवं अत्यंत मधुरता रहेगी। अविवाहित जातकों के लिए उनके विवाह की चर्चा होगी एवं बात भी बनेगी।
व्यवसाय के दृष्टिकोण से इस वर्ष 2022 मे व्यापारिक एवं कार्यक्षेत्र के नजरिये से सोच समझकर काम करने पर काम और व्यापार में अपार सफलता मिलेगी। किसी भी नए कारोबार शुरू करने से पहले हमेशा जानकार की सलाह लेकर ही कार्य प्रारम्भ करे। आयात एवं निर्यात, सट्टा, लॉटरी तथा शेयर बाजार के कार्य करने या लगने पर लाभ प्राप्त होगा। राजनेताओं के मध्य उठा-पटक की परिस्थिति बनेगी एवं एक-दूसरे पर अभद्र व्यवहार अवश्य करेंगे। नौकरी वाले लोगों को मनोवांछित स्थान पर स्थानान्तरण एवं प्रमोशन प्राप्त हो सकता है | किसानों को  पूर्ण सफलता नहीं मिल पाएगी |बेरोजगारों को रोजगार मिलने की सम्भवना कम है। जीवन मे आलस्य बढ़ेगा | बड़ो से प्रेरणा मिलेगी। वर्ष के अंत में भाग्य उदय होने से किस्मत के सितारे चमकेगी। अपनों व परिवार का साथ प्राप्त होने से कार्य में सफलता मिलेगी व कार्य में और आगे बढ़ने के लिए नई उमंग मिलेगी |
आर्थिक दृष्टिकोण से इस वर्ष 2022 के शुरू में आर्थिक स्थिति बढ़िया रहेगी, किन्तु वर्ष 2022 का मध्य समय मई से
सितम्बर तक का वक़्त ज्यादा अच्छा नहीं रहेगा | फालतू के कामो में अनावश्यक रूप से खर्च बढ़ेगा। लेन-देन के मामलों में सचेत रहे क्योंकि हानि होने की संभावना है। जमीन-जायदाद में धन का लाभ एवं भौतिक सुखों की वृद्धि होगी। इस वर्ष 2022 के अंत में कोई पुराना फंसा हुआ रूपया प्राप्त मिल सकता है |
विद्यार्थी गण के लिए यह वर्ष विद्यार्थियों के लिये भविष्य की उज्जवलता को लेकर आएगा | नई नई चीजे सीखने को मिलेगी | उच्च स्तर के डिग्री प्राप्त करने में सफल रह सकेंगे। इंजीनियर व वकालात करने वाले लोगो को मनोवांछित सफलता की प्राप्ति होगी। प्रतियोगी परीक्षा में कहीं निराशा व वर्ष के अंत में सफलता मिलेगी।
यात्रा के नजरिये से इस वर्ष 2022 में काम के सिलसिले में थोड़ी बहुत यात्रा होती रहेगी।


उपाय

1. प्रतिदिन भगवान हनुमान जी की चालीसा पढ़े।
2. यदि संभव हो तो हनुमान जी को चमेली के तेल से चोला एवं गुड़ चढ़ाए।
3. मंगल यँत्र धारण करने से स्वास्थ्य में लाभ मिलेगा।
4. संतरी रंग के रुमाल अपने पास रखें।
5. किसी गरीब को लाल मसूर का दान दे।
6. कर्ज मुक्ति के लिए ऋण मोचन भगवानमंगल स्तोत्र का हर रोज पाठ करें।
7. बन्दरों को केले का भोग लगवाए।
8. हनुमानजी के चरणों के सिन्दूर को अपने ही माथे पर लगाए।