मकर राशि मे पड़ने वाले नक्षत्र एवं उनके चरण कुछ इस प्रकार है-
उषा. – भो, जा, जी।
अभिजित – जू, जे, जो, खा।
श्रवण – खी, खू, खे, खो।
धनिष्ठा – गा, गी।

इस वर्ष 2021 में मकर राशि मे स्थित शुक्र लग्न में उपस्थित रहेंगे।
कुम्भ राशि का चन्द्रमा धन भाव में उपस्थित होगा।
मिथुन राशि का राहु छठे स्थान में उपस्थित रहेगा। वृश्चिक राशि में स्थित मंगल लाभ स्थान में उपस्थित रहेंगे।
धनु राशि में स्थित सूर्य देव, इनके साथ बुध देव, इनके साथ गुरू देव, इनके साथ ही केतु व शनि देव क्रमश: बारहवें स्थान में उपस्थित रहकर वर्ष भर गतिशील रहेंगे।
यह वर्ष 2021 शारीरिक स्वास्थ्य की दृष्टि से ठीक नहीं रहेगा | इस वर्ष रक्तचाप सम्बन्धी परेशानी उत्पन्न हो सकती है साथ ही स्वभाव में क्रोध की प्रबलता अधिक होने पर मानसिक रूप से यदा-कदा असंतुष्टि तथा अधिकांशतया किंकर्त्तव्यमूढ़ से बने रहेंगे। इस वर्ष स्वास्थ्य के प्रति सतर्क रहें।
यह वर्ष 2021 पारिवारिक दृष्टि से परिवार के सदस्यो के लिये अनुकूल व उत्तम रहेगा जिसके चलते पारिवारिक सुख शांति एवं समृद्धि व एक-दूसरे के प्रति सहयोग की सद्भावना बनी रहेगी और सम्बन्धों में मधुरता का भाव उत्पन्न होगा | इस वर्ष भाईयों बंधुओ के मध्य गलतफहकियां दूर होकर प्रेम की भावना जाग्रत होगी। इस वर्ष माता का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा लेकिन पिता जी के स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी रहेगी। संतान पक्ष की ओर से यह वर्ष अच्छा नहीं रहेगा और वे अप्रसन्न रहेगी। संतान को लेकर कोई न कोई परेशानी आती रहेगी।यह समय स्त्री सुख एवं स्वास्थ्य के लिये बहुत अच्छा रहेगा साथ ही वे शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ एवं प्रसन्न रहेगी। दाम्पत्य जीवन में सुख-समृद्धि व सम्बन्धों में मधुरता का भाव लगातार बना रहेगा | अविवाहितों के लिये विवाह होने का योग बनेगा | समाज में उनके मान सम्मान में कीर्ति बढ़ेगी। सभी लोग आपके प्रभाव को स्वीकार करेंगे ।
यह वर्ष 2021 व्यापारिक एवं कार्यक्षेत्र में अत्यन्त ही शुभ एवं महत्त्वपूर्ण रहेगा | इस समय व्यापारिक
क्षेत्र में विशेष उन्नति तथा उन्नतिकारक किसी परिवर्तन की सम्भावना रहेगी। इस वर्ष आपके कार्यक्षेत्र में अचानक ही प्रगति के मार्ग प्रशस्त होंगे। राजनैतिक क्षेत्र की दृष्टि से ये समय अत्यन्त ही महत्त्वपूर्ण ,शुभ व फलदायी रहेगा। किसी उच्च पद की प्राप्ति होने के संकेत मिलेंगे । राजनैतिक व्यक्तियों आपसी मित्रता व गहरे संबंध बढ़ेगे।
बेरोजगारों को वांछित रोजगार मिलने की प्रबल सम्भावनाएं बनेगी। इस वर्ष आप मनोपूर्वक एक से अधिक कार्यों में रूचि लेंगे जिसके फलस्वरूप शुभ एवं महत्त्वपूर्ण कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे तथा भाग्यबल में प्रबलता रहेगी। शत्रु व विरोधी आपके समक्ष ज्यादा समय तक टिक नहीं पायेंगे।
यह वर्ष 2021 आर्थिक दृष्टि से शुभ के साथ-साथ अशुभकारी भी रहेगा । सभी जगह आय स्त्रोतों में वृद्धि होगी और प्रचुर मात्रा में धन-लाभ की प्राप्ति व साथ में अनावश्यक खर्च की अधिकता भी बनी रहेगी। जमीन-जायदाद व वाहन सम्बन्धी सुख प्राप्त होगा और इसके लेन-देन में लाभ मिलेगा। व्यर्थ के कार्यों में रूपया- पैसा पानी की तरह बहा देंगे इसलिये जितना हो उतना खर्च पर नियंत्रण रखें।
इस वर्ष 2021 मे विद्यार्थियों के लिये समय उन्नतिकारक व श्रेष्ठ रहेगा । विद्यार्थियो की ज्ञानार्जन करने में रूचि बनेगी तथा विभिन्न विषयों का रूचि पूर्वक अध्ययन करेंगे और धार्मिक शास्त्रों को पढ़ने में भी रूचि बढ़ेगी | इस वर्ष छात्रों को उच्च स्तर की डिग्री प्राप्त होगी और विद्यार्थियो को मनोवांछित कैरियर को चुनने में सफल रहेंगे | यह समय मन से पढ़ाई करने के किये अच्छा रहेगा।
यात्रा की दृष्टि से इस वर्ष 2021 में शुभ एवं महत्त्वपूर्ण यात्राएं सम्भव होगी।

उपाय

  • सवा पांच रत्ती का नीलम करके धारण करें।
  • शनिवार को काले घोड़े के नाल की बनी मध्यमा अंगुली में धारण करें।
  • शनिवार को कीडीनगरा सींचे।
  • लोहे की कटोरी में तेल या तिल, काले वस्त्र व जूते का दान शनिवार को करें।
  • शनि मंत्र का जाप करें।
  • कांच के बर्तन में खाना-पीना नहीं करें।