मिथुन राशि मे पड़ने वाले नक्षत्र एवं उनके चरण कुछ इस प्रकार है-
मृगशिरा – का, की ।
आर्द्रा – कु , घ, ड, छ ।
पुनर्वसु – के, को, ह।
इस वर्ष 2021 में मिथुन राशि में स्थित राहु लग्न में उपस्थित रहेंगे।
वृश्चिक राशि के मंगल देव छठे स्थान
में उपस्थित रहेंगे।
धनु राशि में स्थित सूर्य देव,इनके साथ शनि देव, इनके साथ बुध देव, इनके साथ गुरू देव व केतु देव सातवें स्थान में उपस्थित हैं।
मकर राशि के शुक्र आठवें स्थान में व कुम्भ राशि का चन्द्रमा भाग्य स्थान में उपस्थित हो कर वर्ष भर
गतिशील रहेंगे।
शारीरिक स्वास्थ्य की दृष्टि से इस वर्ष 2021 के शुरुआत में शारीरिक स्वास्थ्य अच्छा रहेगा किन्तु फरवरी से मई माह तक फिर सितम्बर से सेहत को लेकर कष्ट रहेगा और मन में अशांति बनी रहेगी। व्यर्थ के उथल-पुथल सम्बधी विचार आएंगे। दूसरों की परेशानियों को गले लगाकर रखेंगे जिससे स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है। शरीर में आलस्य अधिक रहेगा जिससे महत्त्वपूर्ण कार्यों को भी कल(अगले दिन) पर छोड़ देने की आदत रहेगी।
पारिवारिक दृष्टि से यह वर्ष 2021 सभी के लिये ठीक-ठीक रहेगा। पारिवार के सभी सदस्य एक-दूसरे के साथ समझौतावादी दृष्टिकोण से रहेंगे तो प्रेम भावना बनी रहेगी। हालांकि अधिकतर परेशानियां
बाहर वाले लोगों के कारण आएगी। माता-पिता के सुख व सहयोग से यह वर्ष 2021 बहुत महत्त्वपूर्ण रहेगा। बड़े-बुजुर्गों का आदर और सम्मान करें तो जिन्दगी में आने वाली सभी कठिनाईयां समाप्त हो जाएगी। संतान की ओर से सभी प्रकार की परेशानियों से चिन्तामुक्त होगें। संतान को वांछित कैरियर में सफलता मिलने से खुशी रहेगी लेकिन पत्नी को लेकर थोड़ा तनाव में रहेगें। गृहस्थ जीवन में समझौता करने पर सबकुछ अच्छा रहेगा।
व्यवसाय की दृष्टि से व्यापार एवं कार्यक्षेत्र में यह वर्ष 2021 ठीक-ठीक रहेगा। इस वर्ष 2021 मे काम-धंधे
में जितना परिश्रम करेंगे उसका उतना ही परिणाम मिल पाएगा। विभिन्न प्रकार के काम में मन स्थिर नहीं रहेगा। जिस काम के लिए जाना है वह कार्य बीच में ही छोड़ देंगे, जो कार्य करना जरूरी नहीं है वही काम
पहले करने की ठान लेंगे। आपको दूसरे के बहकावे में आकर बिजनेस को बढ़ाने में नुकसान उठाना पड़ सकता है इसलिये सोच-समझकर ही कदम उठाने में अच्छा रहेगा।
राजनीति में उठा-पटक की स्थिति ज्यादा बनी रहेगी। अचानक ही काम बनने व बिगड़ने की संभावना रहेगी।
आर्थिक दृष्टि से यह वर्ष 2021 ठीक-ठीक रहेगा। आमतौर पर काम-धंधे में कमाई तो बहुत अच्छी रहेगी किन्तु जहां पर खर्च करना है वहां पर खर्च नहीं करके बेफिजूली में रूपये-पैसे खर्च करेंगे जो आगे जाकर परेशानी में डाल सकता है इसलिए गलत कार्यों में रूपया खर्च करने से बचें अन्यथा वर्ष के मध्य के बाद कर्ज लेने की जरुरत हो सकती है। इस वर्ष जमीन-जायदाद को बेचने से बचे क्योंकि रूपया टिकेगा नहीं और किसी को भी रूपया उधार देने से बचे ।
यह वर्ष 2021 विद्यार्थियों के लिये बढ़ा-चढ़ा रहेगा। इस वर्ष विशेष तौर पर सीए व एलएलबी करने वाले छात्रों को वांछित परिणाम मिलेगा साथ ही जो मेहनत की है वह अब रंग लाएगी। विद्यार्थियों का हौसला बुलन्द रहेगा व कई तरह- तरह के कम्प्यूटर के कार्यों में नई तकनीक सीखने को मिलेंगी जो भविष्य के लिए लाभकारी साबित होंगी। जो विद्यार्थी अपने भविष्य के लिए अच्छा कैरियर चुनना चाहते हैं वे उसमें मनचाही सफलता हासिल करके ही दम लेंगे।
यात्रा के नजरिये से इस वर्ष 2021 में कभी-कभी ही महत्त्वपूर्ण कार्यों के लिए यात्रा सम्भव होगी।

उपाय

  • दूर्वा या लड्डू का प्रसाद भगवान गणेश जी को चढ़ायें।
  • गाय माताजी को हरा चारा खिलायें|
  • प्रतिदिन गणेश चालीसा का पाठ करें।
  • पूरे पांच रत्ती पन्ना को बुध यंत्र के साथ धारण करें।
  • हरे रंग के रूमाल या हैंकि हमेशा पास में रखें।
  • झाडू या कांस्य के बर्तन आदि का दान करें।
  • बहन-बुआ को पांच कपड़े एवं दक्षिणा अवश्य दे।
  • स्फटिक माला को अभिमंत्रित कर गले में ही धारण करें।