इस वर्ष चातुर्मास दिनाँक 01 जुलाई से शुरू हो के 25 नवंबर, 2021 तक पाँच माह का चातुर्मास मास होने से विवाह कार्य, यज्ञोपवीत संस्कार, दीक्षाग्रहण, यज्ञ, गोदान, गृहप्रवेश आदि सभी मंगल कार्य निषेध माने जाते है।

इस वर्ष शेष 6 माह मे विवाह योग एवं शुभ मुहूर्त नवंबर माह मे 26, 29, 30 एवं दिसंबर माह मे 1, 2, 6, 7, 8, 9, 10, 11 दिसंबर को ही है। और 16 दिसंबर 2021 से 15 जनवरी 2021 तक सूर्य धनु मे रहने के कारण खरमास होगा। एवं आगामी वर्ष 2021 मे कुल 51 विवाह मुहूर्त होंगे।

वर्ष 2021 मे कुल 51 विवाह मुहूर्त होंगे

आगामी वर्ष 18 जनवरी 2021 एवं 15 फ़रवरी 2021 को क्रमशः विवाह मुहूर्त है। वर्ष 2021 मे दिनाँक 19 जनवरी 2021 से 15 फ़रवरी 2021 तक सूर्य गुरु की युति होने से गुरु अस्त रहेंगे एवं दिनाँक 17 फ़रवरी 2021 से 17 अप्रैल 2021 तक दिनों के लम्बे समय मे सूर्य शुक्र की युति होने से शुक्र अस्त रहेंगे। और 15 मार्च से 17 अप्रैल तक सूर्य देव मीन मे रहने के कारण खरमास होगा। इन सब कारणों से आगामी वर्ष 2021 मे अप्रैल मध्य तक सिर्फ दो ही विवाह मुहूर्त होंगे।
फिर 22 अप्रैल 2021 से शुरू हो के कुल 49 मुहूर्त 2021 मे मिलेंगे।


धन्यवाद
लेखक – ज्योतिषी भानु प्रताप पाल
+91-9044682648